परमाणु नोट्स | Physics class 12 chapter 12 notes in Hindi

परमाणु नोट्स

प्राचीन काल में द्रव्य की रचना के संबंध में दार्शनिकों का यह मत था कि प्रत्येक पदार्थ छोटे-छोटे कणों से मिलकर बना होता है। लेकिन इस मत की पुष्टि करने के लिए उनके पास कोई प्रायोगिक प्रमाण उपलब्ध नहीं थे। सन् 1803 में वैज्ञानिक डाल्टन ने परमाणु के संबंध में अध्ययन करके यह प्रतिपादन किया। कि प्रत्येक पदार्थ छोटे-छोटे कणों से बना होता है। इन छोटे कणों को परमाणु (Physics class 12 chapter 12 notes in Hindi) कहते हैं। तथा परमाणु को किसी भी भौतिक या रासायनिक प्रयोगिक विधि द्वारा विभाजित नहीं किया जा सकता है।

पढ़ें…. विकिरण तथा द्रव्य की द्वेती प्रकृति | Physics class 12 Chapter 11 notes in Hindi

हाइड्रोजन स्पेक्ट्रम श्रेणी की तरंगदैर्ध्य ज्ञात करने के लिए
\footnotesize \boxed { \frac{1}{λ} = R \left[\frac{1}{n_1^2} - \frac{1}{n_2^2} \right] }
जहां n1 का मान लाइमन श्रेणी के लिए = 1
बामर श्रेणी के लिए = 2
पाश्चन श्रेणी के लिए =3
ब्रैकेट श्रेणी के लिए = 4 तथा
फुण्ड श्रेणी के लिए = 5 होता है।
इस सूत्र में जो R का प्रयोग किया गया है। उसे रिडबर्ग नियतांक कहते हैं। रिडबर्ग नियतांक का मान 1.097 × 107 मीटर-1 होता है।
इन सभी श्रेणियों की तरंगदैर्ध्य इसी सूत्र द्वारा ज्ञात की जाती है।

हाइड्रोजन परमाणु की कक्षा की ऊर्जा

हाइड्रोजन परमाणु की nवें स्थायी कक्षा में इलेक्ट्रॉन की ऊर्जा निम्न सूत्र द्वारा प्राप्त की जा सकती है।
\footnotesize \boxed { E = - \frac{R h c}{n^2} }
या \footnotesize \boxed { E = - \frac{13.6}{n^2} } इलेक्ट्रॉन-वोल्ट

जहां n कक्षा की संख्या है। तथा R रिडबर्ग नियतांक है जिसका महान 1.097 × 107 प्रति मीटर होता है।

Physics class 12 chapter 1 notes in Hindi

परमाणु पाठ में कुछ महत्वपूर्ण और बड़े टॉपिक है। जिन पर हमारे द्वारा अलग से स्पेशल लेख तैयार किए गए हैं ताकि वह टॉपिक को समझने में आपको परेशानी न हो।


शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *